फिरोज शाह मेहता

व्यक्तित्व एवं कृतित्व

[जन्म 1845 – निधन 1915]

एक उदार राजनीतिज्ञ जिनका प्रयास था कि कांग्रेस पर कट्टरपंथियों का अधिकार न हो सके। उनके लिए, सिविक आइडियल्स और पारदर्शी सामाजिक जीवन ही उदारवाद का निर्माण करने वाले आधारभूत तत्व थे। वे बहुत-से संस्थानों के जन्मदाता थे। मुंबई नगर पालिका के सदस्य होने के साथ ही वे नगर पालिका अध्यक्ष भी रहे और इस संस्था के सुधार के लिए उन्होंने बहुत से कार्यों को भी अंजाम दिया। वे बॉम्बे प्रेजीडेंसी एसोसिएशन में सक्रिय होने के साथ-साथ इसके अध्यक्ष भी थे। वे मुंबई के एडवोकेट जनरल और इंपिरियल लेजिसलेटिव काउंसिल के सदस्य थे। वे बॉम्बे विश्वविद्यालय से जुड़े रहे और एक दैनिक समाचार पत्र- दि बॉम्बे क्रॉनिकल की स्थापना की।

 

साभार: इंडियन लिबरल ग्रुप