जयतीर्थ राव से बातचीत

दक्षिण भारत के उद्योगपति और देश की आर्थिक और राजनीतिक मुद्दों पर बेबाकी से अपनी कलम चलानेवाले लेखक जयतीर्थ राव की गितनी देश के जानेमाने उदारवादी चिंतकों में होती है। देश के कई प्रमुख समाचार पत्रों में उनके लेख छपते रहते हैं। पिछले दिनों वे मिल्टन फ्रीडमैन की जन्मशती पर आयोजित समारोह में भाषण देने दिल्ली आए हुए थे। आजादी.मी के संपादक सतीश पेडणेकर ने उनसे वैश्विक  आर्थिक संकट,भारत की आर्थिक स्थिति पर बातचीत की। यहां हम उस बातचीत को अविकल प्रस्तुत कर रहे हैं।