विचार

सर्वेक्षण पर सवाल

जनमत सर्वेक्षणों पर कांग्रेस की आपत्ति निराधार नहीं कही जा सकती, लेकिन वह जिस तरह उन पर प्रतिबंध लगाने की वकालत कर रही है उससे उसके इरादों को लेकर संदेह पैदा होता है। क्या वह इसलिए जनमत सर्वेक्षणों के खिलाफ खड़ी हो गई है, क्योंकि हाल के ऐसे सर्वेक्षणों में उसकी हालत पतली होती दिखाई गई है? पता नहीं सच क्या है, लेकिन यह स्पष्ट है कि कांग्रेस पिछले कुछ समय से अपने आलोचकों के प्रति कुछ ज्यादा ही सख्त तेवर अपनाती दिख रही है।

  • जब कर बहुत ज्यादा हो जाते हैं तो लोग भूखे रह जाते हैं।
    - लाऔत्से
  • प्रत्येक कर हमारे दिल में कटार बनकर चुभता है
  • एक आदमी एक हत्या से खलनायक बनता है लाखों लोगों को मारकर वह नायक हो जाता है।
Category: 
  • अर्थव्यवस्था से संबंधित भ्रमों में सबसे ज्यादा सुनाई देनेवाली यह धारणा है कि मशीनें बेरोजगारी पैदा करती है।
    - हेनरी हैजलिट
Category: 

मार्क्स के दिमाग में एक बुनियादी रोग था। और वह रोग यह था कि वह चीजों को संघर्ष की भाषा में ही सोच सकता था, सहयोग की भाषा में सोच नहीं सकता था। द्वंद की भाषा (डायलेक्टीक्स) की भाषा में सोच सकता था। वह सारे विकास को कंफ्लिंक्ट की भाषा में सोच सकता था कि सारा विकास द्वंद है। यह पूरी तरह सच नहीं है। निश्चित विकास में द्वंदता एक तत्व है। लेकिन द्वंद विकास का आधार नहीं है, द्वंद से भी गहरा सहयोग विकास का आधार है। असल में द्वंद की वहीं जरूरत पड़ती है, जहां सहयोग असंभव हो जाता है। द्वंद मजबूरी है, सहयोग स्वभाव है। और द्वंद भी अगर हमें करना पड़े तो उसके लिए भी हमें सहयोग करना पड़त

इस वक्त दुनिया के दो बड़े देशों चीन और अमेरिका में बेरोजगारी, विकास, विदेश नीति, व्यक्तिगत छवि आदि बहस में बने हुए हैं। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव हो चुके हैं जिनमें बराक ओबामा को एक बार फिर जीत हासिल हुई है जबकि चीन सत्ता परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है।  हमारे देश से उलट दोनों ही जगहों पर 'भ्रष्टाचार' कोई मुद्दा ही नहीं है। आप पूछेंगे कि ऐसा हो भी क्यों? आखिर क्या हमें यह नहीं बताया जा रहा है कि भ्रष्टाचार के पैमाने के लिहाज से भारत को विशिष्ट दर्जा प्राप्त है? कि भारत इस समय पहले की तुलना में कहीं अधिक भ्रष्ट है?

  • सरकार एक काम बखूबी करती है – वह जानती है कि कैसे आपका पैर तोड़ा जाए और फिर वह आपको बैसाखी देती है और कहती है – यदि सरकार नहीं होती तो आप चल नहीं पाते।
  • युद्ध विशालकाय सरकार का एक कार्यक्रम होता है।
  • ऐसा क्यो लगता है कि सरकार सिर्फ एक ही चीज से हमारा संरक्षण करती है वह है हमारी आजादी से।
Category: