बात

श्रीमान यशवंत सिन्हा (और उनकी जैसी सोच वाले भाजपा के अन्य सदस्यों), क्या मैं आपको यह सुझाव देने का दुस्साहस कर सकता हूं कि आप एक संवाददाता सम्मेलन (शायद वित्त मंत्री पी चिदंबरम के साथ संयुक्त रूप से ) बुलाएं और निम्रलिखित घोषणाएं करें: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तर्ज पर देशभक्ति और किसी तरह पक्षधरता से मुक्त होकर भाजपा संप्रग सरकार के साथ मिलकर काम करेगी ताकि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को तत्काल लागू किया जा सके। जैसा कि आप सब अच्छी तरह जानते हैं, जीएसटी को पारित करने के  लिए संविधान में संशोधन की आवश्यकता होगी जिसे केंद्र और भाजपा शासित राज्यों में बगै