खेल

अभी हाल ही में मैंने भारतीय हॉकी महासंघ के अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला है। मैं हॉकी की आन बान शान और पुरातन गौरव को पुनः स्थापित करने के लिए लगातार प्रयासरत हूं। हालांकि हॉकी की वर्तमान स्थिति को अलग करके मापा नहीं जा सकता, यह  मुद्दा अपने आप में काफी संवेदनशील है। भारत में खेलों को लेकर जबरदस्त उत्साह और संभावनाएं हैं, इसको परिपक्व करने की जिम्मेदारी हमारी है, ताकि विश्व खेल मंचों पर भारत के खिलाडी अपनी बेहतरीन प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकें। आज जरुरत है कि हम दुनिया के दूसरे देशों की तरफ भी देखें। और खेल जगत में हो रहे बदलावों को

 

जैसा चलन चल पड़ा है कि कहीं से कोई सुर्रा उठ जाने पर हम उससे जुड़ी हर चीज, हर व्यवस्था, सरकार, देश और समूची दुनिया को भ्रष्ट बताने लगते हैं, उसी तरह आईपीएल में फिक्सिंग का मामला एक बार फिर उभर आने के बाद इस पूरे टूर्नामेंट, लीग और देश के समूचे क्रिकेट सरंजाम को ही कूड़ेदान में डालने पर उतावले न हो जाएं।

प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी ने दैनिक जागरण की ओर से उठाए गए सवालों के जैसे जवाब दिए हैं उनसे यह और अच्छे से साबित हो रहा है कि नक्सली नेता वैचारिक रूप से बुरी तरह पथभ्रष्ट हो चुके हैं और वे अपनी ही बनाई दुनिया में रह रहे हैं। वे लोकतांत्रिक व्यवस्था को ध्वस्त कर न केवल सत्ता हथियाने का मंसूबा पाले हुए हैं, बल्कि ऐसा व्यवहार कर रहे हैं जैसे उन्होंने सत्ता संचालन का अधिकार वैधानिक तरीके से अर्जित कर लिया है। यदि वे इस खुशफहमी में नहीं होते तो सगर्व यह नहीं कह रहे होते कि फिरौती-उगाही करना इसलिए जायज है, क्योंकि उन्हें इतने बड़े तंत्र को चलाना पड़ रहा है। वे जिसे अ