कमेन्टरी - स्वामीनाथन एस. ए. अय्यर

स्वामीनाथन एस. ए. अय्यर

इस पेज पर स्वामीनाथन एस. ए. अय्यर के लेख दिये गये हैं। ये लेख शीर्ष बिजनेस अखबारों में स्वामीनॉमिक्स कॉलम में प्रकाशित होते हैं।

पुरा लेख पढ़ने के लिये उसके शीर्षक पर क्लिक करें।

अधिक जानकारी के लिये देखें: http://swaminomics.org

 

चीन भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार है, लेकिन उसके साथ भारत का 29 अरब डॉलर का विशाल व्यापार घाटा भी है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने चीनी जोड़ीदार ली ख छ्यांग से हाल की मुलाकात में कहा कि इस घाटे का 'कुछ किया जाना चाहिए।' लेकिन एक अर्थशास्त्री के रूप में वे अवश्य ही यह जानते हैं कि हर व्यापारिक भागीदार के साथ व्यापार घाटे को संतुलित करने की सोच गलत है।

अंतरराष्ट्रीय व्यापार की खूबसूरती इसी बात में है कि यह हर देश को अपने विशिष्टि क्षेत्र में और...

Published on 5 Jun 2013 - 13:55

 

क्रिकेट स्पॉट फिक्सिंग घोटाला फिलहाल मीडिया की सनसनी बना हुआ है। बॉलिवुड एक्टर, क्रिकेट सितारे, सटोरिये, ऊंचे पाए के जुआरी, अंडरवर्ल्ड डॉन और यहां तक कि एक पाकिस्तानी अंपायर ने भी इस चटपटे घोटाले में थोड़े और मसाले का योगदान किया है। क्रुद्ध विश्लेषक हर तरह की सट्टेबाजी पर रोक लगाने और न सिर्फ फिक्सरों बल्कि वीआईपी जुआरियों को भी जेल में डालने और यहां तक कि आईपीएल पर प्रतिबंध लगाने की भी मांग कर रहे हैं। यह हास्यास्पद है। अगर कोई न्यायाधीश भ्रष्ट निकला तो क्या आप पूरी न्यायपालिका को प्रतिबंधित कर...

Published on 27 May 2013 - 16:55

झुग्गियां हैं उम्मीद, तरक्की और इज्जत का ठिकाना

जनगणना आयोग की नई रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में छह करोड़ 40 लाख लोग, यानी हर छह में एक भारतीय गंदी-संदी झोपड़पट्टियों में रहते हैं, जो इंसानों के रहने लायक नहीं हैं। इस तथ्य को लेकर कई तरफ से आहें-कराहें सुनाई पड़ रही हैं। लेकिन ज्यादातर गांवों में स्थितियां इससे भी बुरी हैं। जानवर पालकर मजे से रह लेने की खुशफहमी वाले लोगों की कल्पना में हरे-भरे गांव शहरी मलिन...

Published on 2 Apr 2013 - 16:40

Pages