राइट टू एजुकेशन डॉट इनः इन्फॉर्म, एजुकेट, रीफॉर्म

सेंटर फॉर सिविल सोसायटी  (सीसीएस) और सेंट्रल स्क्वायर फाउंडेशन (सीएसएफ) द्वारा फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) के संयुक्त तत्वावधान में फेडरेशन हाउस में 29 अगस्त 2013 को राइट टू एजुकेशन पोर्टल की लॉंचिंग की जा रही है। उद्घाटन समारोह के दौरान सांसद श्री नवीन जिंदल और श्री प्रकाश जावडेकर बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहेंगे।

लॉंचिंग के दौरान पोर्टल के बाबत जानकारी सीसीएस के अध्यक्ष पार्थ जे शाह द्वारा उपलब्ध करायी जाएगी। इस मौके पर ‘righttoeducation.in: Inform, Engage, Reform’ विषयक समूह चर्चा भी की जाएगी जिसमें सेंट मेरी स्कूल की प्रिंसिपल और समावेशी शिक्षा की अगुआ ऐन्नी कोशी, एकाउंटेबिलिटी इनिशिएटिव की डाइरेक्टर यामिनी अय्यर, सीएसएफ के सीईओ आशीष धवन, सीसीएस के प्रेसिडेंट पार्थ जे शाह हिस्सा लेंगे। समूह चर्चा का विषय प्रवर्तन तहलका की प्रबंध संपादक शोमा चौधुरी द्वारा किया जाएगा।

आरटीई पोर्टल, आरटीई से संबंधित सूचनाओं हेतु भारत का सबसे बड़ा ऑनलाइन संसाधन है, जिसका उद्देश्य:

·  सूचनाः आरटीई से संबंधित सूचनाओं और इस संबंध में देशभर में होने वाली गतिविधियों की ताक्ष्णिक जानकारी प्रदान करता है और विभिन्न राज्यों में 25% कोटा व आरटीई के अनुपालन सहित हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट के आरटीई से संबंधित आदेशों की सूचना उपलब्ध कराता है।

·  संलग्न करनाः सभी हितधारकों को चर्चा, परिचर्चा, सूचनाओं, अनुभवों आदि के आदान प्रदान के लिए स्थान उपलब्ध कराता है और ऐतिहासिक शिक्षा के अधिकार कानून से संबंधित भ्रांतियों को दूर करने मे सहायता प्रदान करता है। पोर्टल उत्सुक अभिभावकों को प्रश्न पूछने और विशेषज्ञों से उनके जवाब जानने का भी मौका उपलब्ध कराता है।

·  सुधारः यह आरटीई से संबंधित रिपोर्ट व केस स्टडीज तक पहुंच उपलब्ध कराता है और सरकार को अपनी जवाबदेही में विस्तार करने और उसमें सुधार करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

इस पोर्टल की लॉंचिंग, शिक्षा के क्षेत्र में नागरिकों की सहभागिता को प्रोत्साहित करता है और सरकारी कामकाज, नीति निर्धारण और पॉलिसियों को पारदर्शी तरीके से लागू कराने की ओर महत्वपूर्ण कदम है जो हमें, छात्रों के गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्राप्त करने के विकल्प के लक्ष्य की ओर अग्रसर करता है।

 

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें 
अभिषेक भट्टाचार्या 
abhishek@ccs.in|+91 9810659590