डॉक्यूमेंट्री फिल्म निर्मात्री पुत्री के कौशल का जायजा लेने पहुंचे वीरप्पा मोइली

- 10वें जीविका एशिया डॉक्यूमेंट्री फिल्म फेस्टिवल में बतौर दर्शक सपत्नी शामिल हुए केंद्रीय मंत्री

-  पुत्री सुषमा वीरप्पा द्वारा निर्मित डॉक्यूमेंट्ररी की स्क्रीनिंग के दौरान दर्शकों के बीच बैठ देखी फिल्म

केंद्रीय पेट्रोलियम एवं नेचुरल गैस मंत्री वीरप्पा मोइली शुक्रवार को अचानक हैबिटेट सेंटर स्थित कैज्यूरिना हॉल जा पहुंचे और 10वें जीविका एशिया लाइवलीहूड डॉक्यूमेंट्ररी फिल्म फेस्टिवल के दौरान की जा रही डॉक्यूमेंट्री फिल्मों की स्क्रीनिंग में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने आम दर्शकों के बीच बैठ डॉक्यूमेंट्री ‘वेन शंकर नाग कम्स आस्किंग’ देखी और इसके विषय वस्तु पर दर्शकों के साथ चर्चा भी की । विदित हो कि ‘वेन शंकर नाग कम्स आस्किंग’ नामक यह डॉक्यूमेंट्री उनकी पुत्री सुषमा वीरप्पा द्वारा निर्मित है।

सेंटर फॉर सिविल सोसायटी द्वारा आयोजित चार दिवसीय ‘जीविका फिल्म फेस्टिवल’ के दूसरे दिन ‘वेन शंकर नाग कम्स आस्किंग’ नामक डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग के बाद सभागार में लाइट जलते ही वहां मौजूद बड़ी संख्या में छात्र व दर्शक आश्चर्य चकित रह गए। दरअसल, लाइट जलने के बाद उन्होंने पाया कि उनके बीच बैठा एक शख्स कोई और नहीं बल्कि स्वयं केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोइली हैं। इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी मालती मोइली भी मौजूद थी। इस मौके पर श्री मोइली ने कहा कि व्यस्तता के कारण उन्हें अपनी पुत्री द्वारा निर्मित डॉक्यूमेंट्री को देखने का मौका नहीं मिल सका था। उन्होंने कहा कि जब उन्हें जीविका फेस्टिवल में फिल्म की स्क्रीनिंग के बारे में पता चला तो उन्होंने मौका नहीं गंवाया। श्री मोइली ने आजीविका के जद्दोजहद को दिखाने के जीविका के सराहनीय प्रयास की भी जमकर प्रशंसा की।

इसके पूर्व शुक्रवार को ‘फायर इन द ब्लड’, ‘क्रेडिट वर्सेज कार्बन क्रेडिट’, ‘दाने दाने पे’, ‘वैनिशिंग कलर्स श्रिंकिंग थ्रेड्स’, ‘सरला कश्यप- द हर्बल जूस सेलर’, ‘ऑन द स्ट्रीट्स’, ‘ऑपरेशन फ्री लंच’, ‘इन सर्च ऑफ डेस्टिनी’, ‘जी2जीः ग्रासरूट्स टू ग्लोबल’, ‘वेन शंकर नाग कम्स आस्किंग’ आदि दस डॉक्यूमेंट्ररी फिल्मों की स्क्रीनिंग की गई। कार्यक्रम की शुरूआत ‘स्वतंत्रता से आजादी की ओरः द रोड टू इकोनोमिक फ्रीडम’ विषय पर परिचर्चा हुई जिसमें डा. पार्थ जे शाह व अमित चंद्र ने अपने विचार व्यक्त किये।

 

- अविनाश चंद्र