आजादी पॉडकास्टः स्ट्रीट वेंडर्स एक्ट और रेहड़ी पटरी व्यवसायियों की आजीविका

आस पास के रेहड़ी पटरी व्यवसायियों के पास आपका आना जाना अवश्य रहता होगा। रेहड़ी पटरी वाले ताजे फल-सब्जियों से लेकर हल्के फुल्क नाश्ते तक की हमारी दिन प्रतिदिन की सारी जरूरतों को पूरी करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि नीतिगत अनिश्चितताओं के कारण अपनी आजीविका को लेकर प्रतिदिन उन्हें कितने जोखिमों का सामना करना पड़ता है?

आज़ादी पॉडकास्ट की इस आरंभिक कड़ी में रेहड़ी पटरी व्यवसायियों की आजीविका और इससे संबंधित नीतिगत मुद्दे पर कुमार आनंद ने प्रशांत नारंग से बातचीत की। प्रशांत नारंग सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता हैं और वर्तमान में सेंटर फॉर सिविल सोसायटी में बतौर एसोसिएट डायरेक्टर कार्यरत हैं।

street vendors
street vendors act
Vending
फेरी वाले
स्ट्रीट वेंडर्स एक्ट
रेहड़ी पटरी वाले
थड़ी ठेला व्यापारी
गली मोहल्ले के दुकानदार
आजीविका
लाइवलीहुड
आजादी