ट्रेन राइट टाईम नहीं चलती तो क्या! टाईम को राईट तो कर ही सकते हैं!!

पिछले कुछ महीनों से मोदी सरकार और भारतीय रेल को ट्रेनों के लेट होने के कारण लगातार आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन इस समस्या को हल करने के लिए भारतीय रेल ने एक चालाकी भरा तरीका निकाला है। ट्रेनों को समय से पहुंचाने या ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने के बजाय भारतीय रेल ने ट्रेनों के पहुंचने के समय में ही बदलाव कर दिया है। इसका मतलब ये हुआ कि अगर किसी ट्रेन के पहुंचने का समय 6 बजे का है और वो ट्रेन सात बजे पहुंचती है तो भारतीय रेल ने उस ट्रेन के पहुंचने के समय में ही बदलाव करते हुए 6 बजे के बजाय 7 बजे कर दिया है। बता दें कि पिछले कुछ महीनों से भारत की लगभग 40 प्रतिशत ट्रेने देरी से चल रही थीं। इसी वजह से भारतीय रेल की काफी आलोचना हो रही थी। लोग लगातार इसकी वजह से हो रही परेशानियों की शिकायत कर रहे थे। लेकिन ऐसा लगता है कि इन आलोचनाओं से बचने के लिए भारतीय रेल ने ये तरीका इजाद किया है। ट्रेनों के पहुंचने के टाइम में बदलाव करने से कोई देरी की शिकायत नहीं कर सकेगा.. खबर स्त्रोतः एबीपी न्यूज