अजंता-ऐलोरा

देश की आर्थिक राजधानी व बड़े महानगरों में एक मुंबई को अन्य महानगरों की तुलना में मानसिक रूप से अधिक खुला और महिलाओं के लिए अधिक सुरक्षित माना जाता है। महाराष्ट्र के लोग भी प्रदेश की अन्य विशेषताओं के साथ-साथ अजंता और ऐलोरा की गुफाओं और उसकी चित्रकला व शिल्पकला पर भी बड़ा फक्र करते हैं। अजंता और ऐलोरा की ये वही गुफाएं हैं जिनमें प्रदर्शित नग्न और अर्द्धनग्न चित्रकलाओं और शिल्पकलाओं को सदियों से कला के उत्कृष्ट नमूने के तौर पर देखा गया है। यहां तक कि अधिकांश चित्रों और शिल्पों की छवियों को वात्स्यायन के कामसूत्र में कामकलाओं की सटीक व्याख्या करने के लिए भी उपयोग