कस्तूरीरंगन के नेतृत्व में बनेगी न्यू एजुकेशन पॉलिसी

एचआरडी मिनिस्ट्री ने न्यू एजुकेशन पॉलिसी बनाने के लिए कमिटी का ऐलान किया है। कमिटी का हेड अंतरिक्ष वैज्ञानिक के. कस्तूरीरंगन को बनाया गया है। इनके अलावा कमिटी में और 8 सदस्य हैं। मिनिस्ट्री काफी वक्त से कमिटी बनाने की तैयारी कर रही थी लेकिन इसमें लगातार देरी होती रही। पहले मिनिस्ट्री ने पूर्व कैबिनेट सेक्रेटरी टीएसआर सुब्रमण्यम के नेतृत्व में न्यू एजुकेशन पॉलिसी की कमिटी बनाई थी। जिसने देशव्यापी कंसल्टेशन के बाद अपनी रिपोर्ट जमा की। लेकिन बाद में मिनिस्ट्री ने इस रिपोर्ट को एजुकेशन पॉलिसी का ड्राफ्ट मानने से इनकार कर दिया और इसे महज कुछ इनपुट करार दिया। जिसके बाद ही नई कमिटी बनाने की बात होती रही।

मिनिस्ट्री ने अब जो कमिटी बनाई है उसमें मध्यप्रदेश की बाबा साहेब आंबेडकर सोशल साइंस यूनिवर्सिटी के वीसी राम शंकर कुरील, पूर्व आईएएस केजे अल्फोंसे कनमथनम, कर्नाटक स्टेट इनोवेशन काउंसिल के पूर्व मेंबर सेक्रेटरी एमके श्रीधर, लैंग्वेज कम्युनिकेशन के एक्सपर्ट टीवी कट्टीमनी, गुवाहाटी यूनिवर्सिटी में फारसी के प्रफेसर मजहर आसिफ, यूपी के पूर्व शिक्षा निदेशक कृष्ण मोहन त्रिपाठी, प्रिंसटन यूनिवर्सिटी की मैथमैटिशियन मंजुल भार्गव और मुंबई की एनएनडीटी यूनिवर्सिटी की पूर्व वीसी वसुधा कामत शामिल हैं। एचआरडी के एक अधिकारी ने कहा कि इस कमिटी का गठन इस बात को ध्यान में रखकर किया गया है कि कमिटी मेंबर शिक्षा के विविध क्षेत्रों से जुड़ी विशेषज्ञता लेकर आएंगे।

साभारः नवभारत टाइम्स